Goat FarmingGoat Farming SubsidyGoat Farming Subsidy 2023

Goat Farming Subsidy : अब सरकार देगी बकरी पालन के लिए रु 10 लाख रुपए , यहां ऑनलाइन आवेदन करें

Goat Farming Subsidy : अब सरकार देगी बकरी पालन के लिए रु 10 लाख रुपए , यहां ऑनलाइन आवेदन करें

Goat Farming Subsidy : किसानों को खेती के साथ ही पशुपालन के लिए भी सरकार की ओर मदत दी जा रही है। इसके लिए अलग-अलग राज्यों में वहां की सरकार की ओर से पशुपालक किसानों के लिए कई नई योजनाएं चलाई जा रही है। इन्हीं योजनाओं में से एक योजना मुख्यमंत्री भेड़/बकरी पालन उत्थान योजना है।

अब सरकार देगी बकरी पालन के लिए रु 10 लाख रुपए , यहां ऑनलाइन आवेदन करें

👇🏻👇🏻👇🏻

 यहां क्लिंक करें

योजना के तहत किसानों को 90 प्रतिशत तक सब्सिडी दी जा रहा है। इस योजना को सरकार की ओर से शुरू किया गया है। इस योजना के तहत पशुपालक किसान बकरी पालन (goat farming) का काम शुरू करके काफी अच्छा पैसा कमा सकते हैं।

Goat Farming

बता दें कि बकरी पालन एक ऐसा व्यवसाय है जो कम लागत से शुरू किया जा सकता है लेकिन इससे काफी अच्छा पैसा कमाया जा सकता है। बकरी के दूध और मांस की बाजार मांग को देखते हुए यह बिजनेस लाभ दायक है।

यह भी पढ़ना (Previous Post)

आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से किसान भाइयों को बकरी पालन (goat farming) बिजनेस के लिए सरकार की ओर से दी जाने वाली सब्सिडी और इस बिजनेस से कितना लाभ हो सकता है, इस विषय की सभी जानकारी देंगे।

सरकार दे रही सब्सिडी Government is giving subsidy

  • इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आपके पास पैसे नहीं है, तो
  • आपको परेशान होने की कोई जरूरत नहीं हैं.
  • केंद्र सरकार से बकरी पालन के बिजनेस के लिए
  • आप कुल लागत में 35 फीसदी की सब्सिडी ले सकते हैं.
  • वहीं कुछ राज्यों की सरकारें भी इस व्यापार के लिए भारी सब्सिडी दे रही हैं,
  • जिसमें हरियाणा सरकार 90 फीसदी तक सब्सिडी दे रही है.
  • इसके लिए आप बैंक से लोन भी ले सकते हैं.
  • NABARD से बाकरी पालन के लिए लोन दिया जाता हैं.
  • आपको बता दें कि बकरी फर्म (Goat Farm) ग्रामीण अर्थव्यवस्था को काफी मजबूत करता हैं.
  • एक बकरी को मोटे तौर पर एक वर्ग मीटर की जगह चाहिए.
  • साथ ही बकरियां किसी दूसरे पशु के मुकाबले कम खर्च करना पड़ता है.
  • आम तौर पर एक बकरी को 1-2 किलो चारा खाकर काम चला लेती हैं.

बकरी पालन लोन योजना का उद्देश्य (Objective of Goat Farming Loan Scheme)

इस योजना का उद्देश्य बकरी पालन के व्यवसाय के लिए लोगो को प्रोत्साहित करना है ताकि लोगो की बेरोजगारी दर कम हो और राज्य में दूध का उत्पादन बढे | और लोग सव्य का रोजगार करे | क्यों की आज कल के लोगो ने बकरी पालन को कम कर दिया है जिससे बकरी का दूध राज्य में कम उत्पादन होता है जिससे बकरी के दूध की कीमत काफी ज्यादा है | जैसा की आप जानते है बकरी का दूध हमारे शरीर के लिए कितना लाभदायक होता है|

कोई भी आर्थिक रूप से कमज़ोर बीमार व्यक्ति बकरी के दूध को नहीं खरीद पाता | इन्ही समस्या को देखते हुए सरकार ने इस नई योजना का शुभारंभ किया ताकि राज्य में दूध की कीमत ठीक रहे और लोगो का स्वास्थ बेहतर रहे | और राज्य की बेरोजगारी दर कम हो | इस योजना से लोगो को रोजगार मिलेगा और लोगो की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा क्यों की इस योजना से लोगो की आय में वृद्धि होगी

यह भी पढ़ना (Previous Post)

(How much subsidy will farmers get according to category?) किसानों को वर्गानुसार कितनी मिलेगी सब्सिडी

  • इस योजना के तहत भारी सब्सिडी दी जा रही है।
  • इसके तहत पशुपालकों को बकरी पालन के लिए प्रोत्साहित किया जा है।
  • इसके लिए एससी (S.C) वर्ग के किसानों को 90 प्रतिशत तक सब्सिडी दी जा रही है।
  • इस योजना में किसान का SSC वर्ग का होना जरूरी है।
  • इसके अलावा नाबार्ड बकरी पालन योजना के तहत भी
  • किसानों को सब्सिडी का लाभ प्रदान किया जाता है।
  • इस योजना में किसान का एससी वर्ग का होना जरूरी है।
  • इसके अलावा नाबार्ड बकरी पालन योजना के तहत भी
  • किसानों को सब्सिडी का लाभ प्रदान किया जाता है।
  • इसके तहत एससी, एसटी, पिछड़ा वर्ग व महिला पशुपालक
  • किसानों को 33 प्रतिशत तक सब्सिडी का लाभ दिया जाता है।

बकरी पालन लोन योजना की पात्रता (Goat Farming Loan Scheme Key Eligibility)

अगर आप इस योजना का आवेदन करने का विचार कर रहे है तो हम आपको बता दे इस योजना के आवेदन करने के लिए आपको इस योजना के पात्र होना अनिवार्य है | देखिये अगर आप नीचे दिए पॉइंट्स में आते है तो आप इस योजना के पात्र है |

  • आवेदक को मध्यप्रदेश का मूल स्थायी निवासी होना अनिवार्य है |
  • आवेदक को बकरी पालन का अनुभव होना अनिवार्य है |
  • इस योजना के पात्र वो आवेदक है जिसके पास कम से कम 5 बकरी होना अनिवार्य है |
  • इस योजना के पात्र पूरे राज्य के लोग है |
  • ये है इस योजना की पात्रता | अब हम इस योजना के दस्तावेज देखते है |

(Important documents of Goat Farming Loan Scheme) बकरी पालन लोन योजना के महत्वपूर्ण दस्तावेज

इस योजना के महत्वपूर्ण दस्तावेज होना अनिवार्य है क्यों की तभी आप इस योजना की आवेदन प्रक्रिया को पूर्ण कर सकेगे | नीचे इस योजना के दस्तावेज दिए है अगर वो आपके पास है तो आप इस योजना का आसानी से आवेदन कर सकते है |

  • आवेदक का आधारकार्ड
  • आवेदक का मूल निवास प्रमाण पत्र
  • आवेदक का पहचान पत्र
  • बैंक विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटो

बकरी पालन बिजनेस में कितना हो सकता है मुनाफा (Profit in Goat Farming)

आज के समय में बकरी पालन बिजनेस (goat farming business) लाभ का सौंदा साबित हो रहा है। बकरी के दूध से ज्यादा इसके मांस की बाजार में अधिक डिमांड है। बकरी पालन बिजनेस कम खर्च में अधिक मुनाफा देने वाला बिजनेस है।

इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आपको शुरुआत में एक वर्ग मीटर जगह की जरुरत होती है। वहीं बकरियों के आहार का कोई विशेष प्रबंध भी नहीं करना पड़ता है। बकरियां पेड़ों के हरे पत्ते खाकर भी अपना गुजारा कर लेती हैं। हालांकि बकरियों की अच्छी ग्रोथ के लिए उन्हें पौष्टिक आहार देना चाहिए। इसमें एक बकरी को दो किलो चारा और आधा किलो दाना दिया जाता है।

(How to apply to open goat farming) बकरी पालन खोलने के लिए कैसे आवेदन करें

  • सबसे पहले आपको बिहार बकरी पालन योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा।
  • फिर इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • अब आप उसमे अपना पंजीकरण करें।
  • उसमें अब आप अपना आधार नंबर या वोटर आईडी नंबर से पंजीकरण करें।
  • उसके बाद आपके मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा उस ओटीपी को दर्ज करें।
  • अब आप अपने आधार नंबर और पासवर्ड से लॉगिन करें। Goat Farming Subsidy
  • जब आप लॉग इन कर लेंगे तो आपको एक एप्लीकेशन फार्म मिलेगा,उस फार्म को भरें।
  • उसके बाद आप इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं।

newzkatta.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button